आँसू आ जाते है रोने से पहले, ख्वाब टूट जाते है सोने से पहले, लोग कहते है मोहब्बत गुनाह है, काश कोई रोक लेते गुनाह होने से पहले। 

कुछ लोग मुझे अपना कहा करते थे साहब ! सच में वो लोग सिर्फ कहा ही करते थे !! 

अकेले रोना भी क्या खूब कारीगरी है, सवाल भी खुद के होते है और जवाब भी खुद के। 

कभी कभी नाराजगी, दूसरों से ज्यादा खुद से होती है। 

कुछ जख़्म सदियों के बाद भी ताज़ा रहते है, फ़राज़ वक़्त के पास भी हर मर्ज़ की दवा नहीं होती।। 

मोहब्बत का दर्द दिल में छुपाया बहुत है, सच कहुँ उसकी मोहब्बत ने रुलाया बहुत है। 

मोहब्बत का दर्द दिल में छुपाया बहुत है, सच कहुँ उसकी मोहब्बत ने रुलाया बहुत है। 

अच्छे होते हैं वो लोग जो आकर चले जाते हैं, थोड़ा ठहर कर जाने वाले बहुत रुलाते हैं। 

एक वो था बदल गया, एक में था बिखर गया, एक वक़्त था गुज़र गया। 

बेशक जो जितना खामोश रहता है  वो अपनी इज़्ज़त उतनी ही महफूज़ रखता है.